|| सूर्य शनि युति/योग ||

|| ॐ || || श्री सदगुरु परमात्मने नमः || सूर्य शनि जन्मपत्रिका में जब भी साथ होते हैं तो ऐसे जातक जीवन में बड़ी ही कठिनाई, परिश्रम, और अनेक प्रयास…

राशि

ज्योतिष में बहुत से पहलु है किसी भी विषय के अंतिम छोर तक पहुचने के लिए और ऐसे ही कई पहलुओ में से एक है “राशि”, पत्रिका में राशि को प्रधानता दे या…

ज्योतिष शाखाएँ और उनका उपयोग (Astrology Branches and their Use)

ज्योतिष में कई प्रकार (So Many) के साधन (Tools) दिए गए हैं, जैसे की वैदिक ज्योतिष / Vedic Astrology (सम्पूर्ण राशी, नवग्रह, नक्षत्र, पंचांग, मुहूर्त आदि सर्वांग विचार), जैमिनी पद्धति…

कर्मफल का ज्योतिष सम्बन्ध

|| ॐ ||   पुर्वजन्मार्जितं कर्म, शुभं वा यदि वाशुभम | तस्य पक्ति ग्रहा: सर्वे, सुचयन्तीह जन्मनि || जन्म तथा मरण रूपी भव बंधन में (अनेक जन्म में किये गए…

मंत्र

“मंत्र” की मानवीय जीवन में आवश्यकता :- मंत्र इस शब्द में मुल रूप से दो अक्षर समाविष्ट है | प्रथम अक्षर है ‘म’ जिसका सीधा सम्बन्ध हमारे ‘मन’ से है…